प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

27 January 2019

होती रहेंगी अपनी बातें......

बीत जाते हैं दिन
बीत जाती हैं रातें 
रह जाती हैं केवल
कुछ अनकही बातें। 

बातें जो मैं करके खुद से 
खुद को ही समझाता  हूँ 
मन के किसी किनारे पर 
फिर भी बैठा रह जाता हूँ। 

ख्यालों का कोई अन्त नहीं 
 दोहराती खुद को जैसे रातें 
कभी गुज़र कर कहीं ठहर कर 
होती रहेंगी अपनी बातें। 

यश ©
27/जनवरी/2019 


2 comments:

Popular Posts

+Get Now!