प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

11 February 2024

कहा नहीं जा सकता...

अनिश्चित जीवन 
कब थम जाए
कब
स्मृतियों के अवशेष 
दे जाए
कहा नहीं जा सकता।

कहा नहीं जा सकता
कि कब 
ये शब्द लिखती हुई उंगलियां
कांपने लगें
होठ थरथराने लगें
आंखें प्रिय को ढूंढने लगें
और सांसें
उखड़ने लगें।

कहा नहीं जा सकता
कि कब
सुबह एक पल में बदल जाए
सूर्योदय के साथ ही
सूर्यास्त भी 
दस्तक दे जाए।

कहा नहीं जा सकता
कि कब
अपनी धुरी पर घूमती धरती
किसी धूमकेतु से टकराए
और 
पल दर पल
बीतता हुआ
समय  पुनः भटक कर
अपना इतिहास दोहराए।

कहा नहीं जा सकता
कि 
इस यशपथ पर 
कुछ भी 
कभी भी
हो सकता है घटित
जो इसे बदल दे
और ले जाए
यक्ष प्रश्नों से भरे
किसी अदृश्य
एकांत पथ की ओर।

-यशवन्त माथुर©
11 फरवरी 2024
 
  एक निवेदन
इस ब्लॉग पर कुछ विज्ञापन प्रदर्शित हो रहे हैं। आपके मात्र 1 या 2 क्लिक मुझे कुछ आर्थिक सहायता कर सकते हैं। 

मेरे अन्य ब्लॉग 


04 February 2024

40 पार के पुरुष - 2

जिम्मेदारियों का बोझा ढोते 
40 पार के पुरुष
जीवन के 
तिलिस्मी रंगमंच पर
चाह कर भी नहीं निभा सकते
खुद का मन पसंद किरदार
वो तो बस
कठपुतली होते हैं
नाचते रहते हैं 
किसी और की 
थामी हुई डोर के सहारे
ढूंढते रहते हैं किनारे
करते रहते हैं
पुरजोर कोशिशें 
जानकर की हुई 
अनजान गलतियों के 
निशान मिटाने की।
40 पार के
कुछ पुरुषों की
पटकथा 
फूलों के सपनों
और कांटों की वास्तविकता 
को खुद में समेटे हुए
सिर्फ अनिश्चित ही होती है।

-यशवन्त माथुर© 
  एक निवेदन- 
इस ब्लॉग पर कुछ विज्ञापन प्रदर्शित हो रहे हैं। आपके मात्र 1 या 2 क्लिक मुझे कुछ आर्थिक सहायता कर सकते हैं। 

मेरे अन्य ब्लॉग 


01 February 2024

एक नई शुरुआत करें...

मुश्किल भूलना
बीता काल मगर
फिर चलने की 
बात करें

एक नई शुरुआत करें।

जीवन खुद में 
कठिन गणित
जिसका हल
हालात करें

एक नई शुरुआत करें।

सूर्योदय कर रहा 
प्रतीक्षा
उजास से
हर रात भरें।

एक नई शुरुआत करें।

-यशवन्त माथुर©

- एक निवेदन- 
इस ब्लॉग पर कुछ विज्ञापन प्रदर्शित हो रहे हैं। आपके मात्र 1 या 2 क्लिक मुझे कुछ आर्थिक सहायता कर सकते हैं। 

मेरे अन्य ब्लॉग 


11 January 2024

पॉलीकैब इंडिया के शेयर गुरुवार को 21% की गिरावट के साथ बंद


पॉलीकैब इंडिया के शेयर गुरुवार को 21% की गिरावट के साथ बंद हुए, जिससे 2024 की शुरुआत के बाद से उनकी गिरावट बढ़ गई। आयकर विभाग ने बुधवार को एक बयान जारी किया जहां उसने एक केबल और तार निर्माण कंपनी में तलाशी अभियान की बात कही।

मंगलवार को जब खोज अभियान की रिपोर्ट पहली बार सामने आई थी तब पॉलीकैब के शेयरों में 9% की गिरावट आई थी। कंपनी ने उस शाम बाद में एक बयान जारी कर अपनी ओर से किसी भी कथित कर चोरी से इनकार किया।

पॉलीकैब के लिए वर्ष की नकारात्मक शुरुआत के बावजूद, बाजार के अधिकांश शेयर स्टॉक को लेकर उत्साहित बने हुए हैं। कंपनी पर नज़र रखने वाले 31 विश्लेषकों में से 60% से अधिक ने स्टॉक पर "खरीदने" की सिफारिश की है, जबकि छह ने क्रमशः "होल्ड" और "सेल" रेटिंग दी है।

दरअसल, पिछले साल दिसंबर तक लगातार तीन महीनों तक पॉलीकैब पर "बेचने" की सिफारिशों की संख्या में गिरावट आई है।

पॉलीकैब पर आम सहमति मूल्य लक्ष्य बुधवार के समापन स्तर से स्टॉक में 14.5% की संभावित वृद्धि का संकेत देता है। विश्लेषकों के बीच, जेफ़रीज़ ने वर्तमान में पॉलीकैब पर ₹7,000 का मूल्य लक्ष्य रखा है, जो सड़क पर सबसे अधिक है, जो बुधवार के बंद से 42% की संभावित वृद्धि दर्शाता है।

अप्रैल 2019 में सूचीबद्ध होने के बाद से पॉलीकैब दस-बैगर स्टॉक रहा है। स्टॉक की आईपीओ कीमत ₹538 थी और इसे 51 गुना से अधिक सब्सक्राइब किया गया था, जिससे यह वर्ष का पांचवां सबसे अधिक सब्सक्राइब किया गया आईपीओ बन गया। उस वर्ष स्टॉक 84% बढ़ गया था। दिसंबर 2023 में शेयरों ने ₹5,733 का रिकॉर्ड उच्च स्तर बनाया, जिससे आईपीओ मूल्य पर 10 गुना रिटर्न मिला।

इस साल की शुरुआत को छोड़कर, पॉलीकैब के शेयरों ने सूचीबद्ध होने के बाद से हर साल सकारात्मक वार्षिक रिटर्न दिया है, जिसमें 2023 और 2021 में 100% से अधिक का रिटर्न शामिल है।
+Get Now!