प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

30 May 2011

आम आदमी की नज़र से...........

एक आम आदमी की नज़र से
मैं भी देखता हूँ
कुछ सपने
कभी हवाई ज़हाज़ में
उड़ने के
कभी 'शताब्दी' में चलने के
मगर मोह
नहीं छोड़ सकता
दो पहिये वाली
अपनी पुरानी
'हीरो जेट' का
'एटलस' का
क्योंकि हम
करते हैं बहुत प्यार
एक दूसरे से.

17 comments:

मॉडरेशन का विकल्प सक्षम होने के कारण आपकी टिप्पणी यहाँ प्रदर्शित होने में थोड़ा समय लग सकता है।

कृपया किसी प्रकार का विज्ञापन टिप्पणी में न दें।

केवल चर्चामंच का लिंक ही दिया जा सकता है, इसके अलावा यदि बहुत आवश्यक न हो तो अपने या अन्य किसी ब्लॉग का लिंक टिप्पणी में न दें, अन्यथा आपकी टिप्पणी यहाँ प्रदर्शित नहीं की जाएगी।

  1. मेल से प्राप्त संजय भास्कर जी की टिप्पणी -
    ------------------------------
    यशवंत भाई
    नमस्कार
    मैं आपके ब्लॉग पर टिपण्णी नहीं कर पा रहा हूँ आपका टिपण्णी बॉक्स ही नहीं खुल रहा है
    इसलिए मेल द्वारा टिप्पणी भेज रहा हूँ!
    ...... बहुत ही शानदार लिखा है आपने
    सपने कभी पूरे नहीं होते आज कि इस मेहेंगाई के दौर में हीरो जेट ही कामयाब है
    यशवंत भाई
    कैसे लिख जाते हो यार ऐसा सब..........

    ReplyDelete
  2. मेहनत करते रहने से सपने ज़रूर पूरे होते हैं ... अच्छी रचना !

    ReplyDelete
  3. मोह
    नहीं छोड़ सकता
    दो पहिये वाली
    अपनी पुरानी
    'हीरो जेट' का
    'एटलस' का
    क्योंकि हम
    करते हैं बहुत प्यार
    एक दूसरे से.

    u made me nostaligic
    thanks and regards

    ReplyDelete
  4. पुरानी वस्तुओं से मोह स्वाभाविक है..लेकिन सपने देखेंगे तभी तो उन्हें पाने की कोशिश करेंगे ...बहुत सुन्दर प्रस्तुति....

    ReplyDelete
  5. पुरानी चीज़ों से प्रेम बना ही रहता है.... सुंदर रचना

    ReplyDelete
  6. very nice portrayal of affection we have for the things/machines we use !!

    ReplyDelete
  7. बहुत सुन्दर ये मोह तो सभी को अपनी चीज़ों से होता है .आपने बहुत खूबसूरती से अभिव्यक्त किया है .

    ReplyDelete
  8. यथार्थपरक रचना.... हार्दिक बधाई।

    ReplyDelete
  9. वो मोह तो इन सपनों के पूरा हो जाने के बाद भी बना रहता है...

    बढ़िया अभिव्यक्ति.

    ReplyDelete
  10. बहुत अच्छा लिखा .....पुरानी वस्तुओं से मोह होगा तभी नये का भी अनुरक्षण हो पायेगा ....शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  11. सपने भावुक और प्यारे होते है !देखना कोई बुरी बात नहीं है !

    ReplyDelete
  12. नए की खोज और पुराने का सम्मान तब होगा जीवन आसान !

    ReplyDelete
  13. a good definition of love...//

    ReplyDelete
  14. हीरो जेट और एटलस अधिक भरोसे मंद है...

    नीरज

    ReplyDelete
  15. आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद!

    ReplyDelete
  16. अपनी पुरानी चीजें सच में बहुत प्यारी होती हैं ।

    ReplyDelete

Popular Posts

+Get Now!