प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

23 May 2011

एक नया दौर

एक नया दौर
शुरू होगा
आज से

कोई
सीना ताने
छूएगा
नए आसमां को
कोई
आ गिरेगा ज़मीं पर
और कोई
त्रिशंकु बना
ताकेगा
कभी ऊपर
कभी नीचे

एक नया दौर
शुरू होगा
आज से

आत्ममंथन का
नयी अपेक्षाओं का
नए लक्ष्यों का
नयी सोच का

होगा सब कुछ नया
उनके लिए
जिन्होंने
छू लिया आसमान
और जो
ज़मीन पर
अब भी हैं खड़े

एक नया दौर
शुरू होगा
आज से

परिणाम आ चुका है;
परिणाम आने  वाला है

कुछ राहत पा गये
और कुछ की
धडकनें
होती जा रही हैं तेज
सब की
बस एक सोच
क्या हमने किया था 
और  क्या हम को
मिलने वाला है

आज  से
एक नया दौर
शुरू होने वाला है

16 comments:

  1. वाह्….………।बहुत सुन्दर अन्दाज़ ………नया दौर तो आ कर रहेगा।

    ReplyDelete
  2. जिंदगी का हर पड़ाव शायद एक नए सफर की शुरुआत होती है ... सुन्दर कविता !

    ReplyDelete
  3. बहुत सुंदर संदेश ! आशा का दामन कभी नहीं छोड़ना है...

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी कविता है ।

    ReplyDelete
  5. सुंदर संदेश .....नया दौर तो आ कर रहेगा।

    ReplyDelete
  6. बहुत सुन्दर अन्दाज़

    ReplyDelete
  7. बात को अर्थपूर्ण अंदाज़ में उठाया बधाई

    ReplyDelete
  8. naya dour, a very lovely msg in simple words.
    nice post

    ReplyDelete
  9. परिस्थितियों का सटीक आकलन करती सार्थक कविता...

    ReplyDelete
  10. आत्ममंथन का
    नयी अपेक्षाओं का
    नए लक्ष्यों का
    नयी सोच का
    नया दौर बहुत कुछ नया साथ लाता है..... सुंदर रचना

    ReplyDelete
  11. बस एक सोच
    क्या हमने किया था
    और क्या हम को
    मिलने वाला है

    आज से
    एक नया दौर
    शुरू होने वाला है


    सटीक बात...सुंदर विचार। गहन चिन्तन के लिए बधाई।

    ReplyDelete
  12. such me kuch aisa haal hota hai.. is daur me.. dhadkne tej hai result aa rahe hai ya aane vale hai.. sab intjar kar rahe hai...

    ReplyDelete
  13. आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद!

    ReplyDelete

Popular Posts

+Get Now!