प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

26 January 2011

गणतंत्र को नमन करें


गाँवों कस्बों की टूटी फूटी सड़कों पर
हिचकोले लेती खटारा बसों और टैम्पुओं पर
लेट होती रेलों और महंगी उड़ानों पर
बदनाम गलियों सड़कों और कूचों पर 
नीलाम होते खिलाडियों की सजी हुई मंडी पर 
आन्दोलनों,हडतालों और महंगाई की दबंगई पर
घोटालों और अमीर गरीब की बढती खाई पर
जूठन को चाटते ठिठुरते नंगे बचपन पर
पंचायतों में जलती मोहब्बत की चिताओं पर
तार तार होती आबरुओं और दहेज़ की दहकती आग पर
खून के प्यासे रिश्तों और झगडे फसाद पर
छुट भैय्ये नेताओं और भ्रष्टाचार पर
नापाक आतंक, घुसपैठ और बम धमाकों पर
एसी का मजा लेती ब्यूरोक्रेसी पर  
'अमीर और ताकतवर' (???) होते जा रहे इंडिया पर
आइये गर्व करें
रोते भारत के गणतंत्र को 
नमन करें !!

-------------------------------------------------
सभी पाठकों को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.
-----------------------------------------------------

32 comments:

  1. गणतंत्र दिवस की बहुत शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  2. प्रासंगिक विचार ...सार्थक रचना
    गणतंत्र दिवस की मंगलकामनाएं

    ReplyDelete
  3. बहुत सही लिखा है |बधाई
    आशा

    ReplyDelete
  4. बहुत ही सुन्दर.. सटीक

    जय हो

    जय हिन्द

    ReplyDelete
  5. गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर आप को ढेरों शुभकामनाये|

    ReplyDelete
  6. beutiful presentation.

    गणतंत्र दिवस की आपको भी हार्दिक शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  7. आप सभी कों गणतंत्र दिवस की बधाई एवं शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  8. गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाइयाँ !!

    Happy Republic Day.........Jai HIND

    ReplyDelete
  9. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (27/1/2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।
    http://charchamanch.uchcharan.com

    गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाइयाँ !!

    ReplyDelete
  10. आपने जो लिखा है सच है पर हमेशा ऐसे मौकों पर इसी के बारे में क्यों सोचा जाए...बहुत कुछ अच्छा भी है। पूरे वर्ष तो हम बोलते ही रहते हैं...एक दिन किसी शुभ अवसर पर उस अवसर को मनाना चाहिए न कि उस दिन भी गिले-शिकवे। परिवार में लाख झगड़े हों लेकिन किसी के जन्मदिन पर सब भूलकर जन्मदिन ही मनाया जाता है।
    ये मेरा मानना है। आपने जो लिखा है वह सच है...यह तो सभी मानते होंगे...आज के दिन क्या निजी जीवन में भी किसी खास मौके पर दिल में मैल नहीं रखनी चाहिए...खुशी के जितने भी पल मिलें उतने कम हैं और उससे कम हमारे जीवन में खुशी....
    गणतंत्र दिवस पर बधाई....

    ReplyDelete
  11. आक्रोशपूर्ण , सच्चाई बयान करती सुन्दर रचना ।
    गणतंत्र दिवस की शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  12. बहुत सटीक....गणतन्त्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें और बधाई !

    ReplyDelete
  13. गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई !
    http://hamarbilaspur.blogspot.com/2011/01/blog-post_5712.html

    ReplyDelete
  14. ैंडिया पर गर्व है। भारत के गणतन्त्र की हार्दिक शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  15. गणतंत्र दिवस पर हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ... जय हिंद

    ReplyDelete
  16. सही लिखा है...

    गणतंत्र दिवस पर ढेरों शुभकामनायें

    जय हिंद!

    ReplyDelete
  17. गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  18. शब्दों का खुबसूरत ताना बाना !

    बहुत सुन्दर शब्दों मै पिरोई हुई रचना !

    गणतंत्र दिवस की बहुत बहुत बधाई !

    ReplyDelete
  19. बेहतरीन,गणतंत्र दिवस पर अच्छी प्रस्तुति. सीधा अच्छा कटाक्ष सामायिक रचना. वो भी चंद पंक्तियों में बहुत कुछ.

    ReplyDelete
  20. बहुत ही सुन्दर.. सटीक|

    गणतंत्र दिवस की बहुत बहुत बधाई|

    ReplyDelete
  21. priya dwajvahak desh ke ,

    pranam !

    apki mamsparshi vedana swatantr bharat ke antar ki ,aapki rachna men dikhati hai .kahan hai shahidon ke sapano ka bharat ,khojana hoga.
    dhanyavad.

    ReplyDelete
  22. गणतंत्र दिवस पर आपको हार्दिक बधाई!!

    ReplyDelete
  23. एसी का मजा लेती ब्यूरोक्रेसी पर
    ekdam sahi bole .

    ReplyDelete
  24. गणतंत्र दिवस की बहुत बहुत बधाई

    ReplyDelete
  25. गणतंत्र दिवस के मौके पर इस कमाल की रचना के लिए बधाई स्वीकारें ...

    ReplyDelete
  26. आज के हालातों को प्रस्तुत करती सटीक रचना...

    ReplyDelete
  27. इन पंक्तियों को पसंद करने के लिए आप सभी पाठकों को हार्दिक धन्यवाद.

    @वन्दना जी...चर्चा मंच पर शामिल करने लिए दिल से शुक्रिया.

    @वीना जी..आपकी बात बिलकुल सही है..अगली बार से ध्यान रखूँगा.इसी प्रकार मार्ग दर्शन देती रहिएगा.

    ReplyDelete
  28. बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति ....शुभकामनायें

    ReplyDelete

Popular Posts

+Get Now!