प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

31 March 2013

डॉक्टर .....

(यह पंक्तियाँ एक खास दोस्त के लिये जिन्हें मैं 'डॉक्टर' कहता हूँ।)

Ph.d भी होता है
MBBS और MD भी होता है
हर डॉक्टर
'सर्जन' ही होता है

एक चीरता है
बिगड़े अंग को
और देता है
नया जीवन

एक चीरता है
दर्शन को
और देता है
नया सृजन

मोटी किताबों
और दुनिया भर की
अगर मगर में
प्रयोगशालाओं
पुस्तकालयों की
हर डगर में

एक नये युग
नयी परिकल्पना का
अवतरण होता है

सर्जक का सृजन
हर डॉक्टर
सर्जन होता है।

~यशवन्त माथुर©

12 comments:

  1. .सार्थक भावनात्मक प्रस्तुति जया प्रदा भारतीय राजनीति में वीरांगना .महिला ब्लोगर्स के लिए एक नयी सौगात आज ही जुड़ें WOMAN ABOUT MAN

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन एहसास.....

    ReplyDelete
  3. मूर्खता दिवस की मंगलकामनाओं के आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (01-04-2013) के चर्चा मंच-1181 पर भी होगी!
    सूचनार्थ ...सादर..!

    ReplyDelete
  4. आपकी यह बेहतरीन रचना बुधवार 03/04/2013 को http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जाएगी. कृपया अवलोकन करे एवं आपके सुझावों को अंकित करें, लिंक में आपका स्वागत है . धन्यवाद!

    ReplyDelete
  5. आपकी यह बेहतरीन रचना बुधवार 03/04/2013 को http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जाएगी. कृपया अवलोकन करे एवं आपके सुझावों को अंकित करें, लिंक में आपका स्वागत है . धन्यवाद!

    ReplyDelete
  6. वाह..अच्छा है

    ReplyDelete
  7. सही कहा...यशवंत!
    अच्छी रचना!
    ~God Bless!!!

    ReplyDelete

Popular Posts

+Get Now!