प्रतिलिप्याधिकार/सर्वाधिकार सुरक्षित ©

इस ब्लॉग पर प्रकाशित अभिव्यक्ति (संदर्भित-संकलित गीत /चित्र /आलेख अथवा निबंध को छोड़ कर) पूर्णत: मौलिक एवं सर्वाधिकार सुरक्षित है।
यदि कहीं प्रकाशित करना चाहें तो yashwant009@gmail.com द्वारा पूर्वानुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि आप चाहें तो हमें कुछ सहयोग कर सकते हैं

27 April 2013

भारत रत्न-चिराग जुयाल --क्या मेरी मांग गलत है ?

कल 26 अप्रैल  के 'हिंदुस्तान' मे यह समाचार पढ़ा-


(इस इमेज पर क्लिक कर के स्पष्ट पढ़ सकते हैं )

 ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी देहरादून मे इंजीनियरिंग के छात्र  चिराग जुयाल  के आविष्कार के बारे मे पढ़ कर बस यही मन मे आया की यही है सच्चा भारत रत्न। अगर इस समाचार को आप ध्यान से पढ़ेंगे तो बस यही दुआ निकलेगी कि हमारी सरकार चिराग को हर संभव मदद और प्रोत्साहन दे क्योंकि यदि इनको अपनी परियोजना मे सफलता मिलती है तो यह तेज़ी से फ़ेल रहे आतंकवाद को नियंत्रित करने,सम्पूर्ण मानवता और विश्व शांति की दिशा में  एक क्रांतिकारी खोज साबित होगी।

हम सचिन तेंदुलकर और अन्य लोगों को भारत रत्न देने की मांग कर सकते हैं तो क्यों न चिराग की सफलता के लिए दुआ करें। कम से कम मेरी नज़र में तो चिराग की अहमियत बहुत ज़्यादा बढ़ गयी है।

तो अब आप ही बताइये चिराग को भारत रत्न देने की मेरी मांग क्या गलत है ? 


~यशवन्त माथुर

17 comments:

कृपया किसी प्रकार का विज्ञापन टिप्पणी में न दें।

केवल चर्चामंच का लिंक ही दिया जा सकता है, इसके अलावा यदि बहुत आवश्यक न हो तो अपने या अन्य किसी ब्लॉग का लिंक टिप्पणी में न दें, अन्यथा आपकी टिप्पणी यहाँ प्रदर्शित नहीं की जाएगी।

मॉडरेशन का विकल्प सक्षम होने के कारण आपकी टिप्पणी यहाँ प्रदर्शित होने में थोड़ा समय लग सकता है।

  1. indira mukhopadhyay
    Bahut sahi maang hai, mera ashirwad aap sabke saath hai.

    ReplyDelete
  2. सरिता भाटिया
    चिराग सफल भव
    नमस्कार
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार (29-04-2013) के चर्चा मंच अपनी प्रतिक्रिया के लिए पधारें
    सूचनार्थ

    ReplyDelete
  3. vibha rani Shrivastava
    चिराग को भारत रत्न देने की मांग बिलकुल सही है

    हार्दिक शुभकामनायें ........

    ReplyDelete
  4. Bharat Bhushan
    हम भारतीयों ने एक ही अध्याय ध्यान से पढ़ा है- How to kill initiative. टेलेंट को प्रोत्साहित करना हम ने सीखा नहीं. आपकी चिंता जायज़ है.

    ReplyDelete
  5. Maheshwari Kaneri
    चिराग को भारत रत्न देने की मेरी मांग बिलकुल सही है..ये तो बहुत ही महत्वपूर्ण खोज है..

    ReplyDelete
  6. Nisha Mittal
    बिलकुल हकदार हैं सम्मान के यदि उनकी खोज परीक्षण पर खरी उतरती है तो उनको हरसंभव प्रोत्साहन मिलना चाहिए

    ReplyDelete
  7. Annapurna Bajpai
    चिराग को अभूतपूर्व सफलता मिले हम सभी ये आशा करते है और सचमुच ऐसे होनहार छात्र को भारत रत्न मिलना चाहिए ।

    ReplyDelete
  8. कालीपद प्रसाद
    चिराग को भारत रत्ना तो मिलना ही चाहिए .हम उसके उज्जल भविष्य की कामना करते है
    डैश बोर्ड पर पाता हूँ आपकी रचना, अनुशरण कर ब्लॉग को
    अनुशरण कर मेरे ब्लॉग को अनुभव करे मेरी अनुभूति को
    latest postजीवन संध्या
    latest post परम्परा

    ReplyDelete
  9. Rachana Dixit
    बिलकुल सहमत हूँ आपकी बात से.

    ReplyDelete
  10. DrNisha Maharana
    sacchi bat motivation jaruri hai .......bahut acchi khoj hai ye to ....

    ReplyDelete
  11. sadhana vaid
    सचमुच बहुत ही अद्भुत, परम आवश्यक और महत्वपूर्ण आविष्कार किया है चिराग ने ! यह वास्तविक अर्थों में देश का प्रखर चिराग है ! इसके उज्जवल भविष्य के लिये अनन्त शुभकामनायें एवँ प्यार भरे आशीर्वाद !

    ReplyDelete
  12. तुषार राज रस्तोगी
    वाह सही हैं | भारतरत्न दो और प्रोत्साहन भी जिससे आगे जीवन मैं ऐसे और कई आविष्कार करें |

    ReplyDelete
  13. onkar kedia
    हमारी शुभकामनाएँ साथ हैं चिराग के

    ReplyDelete
  14. Neeta Mehrotra
    हार्दिक शुभकामना चिराग को ।
    प्रतिभा को सम्मान मिलना ही चाहिए ।

    ReplyDelete
  15. काफी अर्से के बाद गुग्गल पर जुयालजी के रीसर्च के बारे में आपका लेख पढ़ा !
    आपने सही सवाल किया है, इस समाज से - सचिन है कपिलदेव, गावस्कर या रविशास्त्री,
    इन्होने केवल और केवल क्रिकेट खेला देश का नाम बाद में पहले करोड़पति-अरबपति बने,
    मीडिया में छा गए -जरा सोच के बताइए , समाज के उत्थान के लिए इनका क्या योगदान है ?
    मैं आपकी मांग का समर्थन करता हूँ की भारत रत्न इन खिलाड़ियों को दिया जा सकता है तो
    जुयाल जी को क्यों नहीं ! हरेंद्र रावत

    ReplyDelete